चुनाव जीतने के लिए ट्रंप विभाजन और डर को जनता के सामने पेश कर रहे: ओबामा

0
ओबामा ट्रंप

 

दिल्ली:

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने डोनाल्ड ट्रंप पर आरोप लगाया है कि वह रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को अपने आदर्श के रूप में देखते हैं, इसलिए रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीदवार व्हाइट हाउस के लिए उपयुक्त नहीं हैं।

ओबामा ने कल फिलाडेल्फिया में डेमोक्रेटिक उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन के समर्थन में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘क्या आप जानते हैं कि मतदान सर्वेक्षक आपसे पूछते हैं कि क्या आप उस व्यक्ति का समर्थन करते हैं, जो आपका समर्थन न मिलने पर आपको जेल में डाल सकता है। तब आप कहते हैं, हां, मुझे यह व्यक्ति बेहद पसंद है। लेकिन जरा डोनाल्ड ट्रंप के आदर्श के बारे में सोचिए। मुझे पुतिन के साथ, रूस के साथ कारोबार करना है लेकिन वह विदेश नीति का हिस्सा है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन मैं यह कहता हुआ नहीं घूमता कि वह मेरे आदर्श हैं। क्या आप रोनाल्ड रीगन द्वारा ऐसे किसी व्यक्ति को अपना आदर्श बताने की कल्पना कर सकते हैं? वह अमेरिका को एक पहाड़ी पर जगमगाते शहर के रूप में देखते थे और डोनाल्ड ट्रंप इसे एक विभाजित आपराधिक घटनास्थल कहते हैं।’’ ओबामा ने कहा, ‘‘वह कोई वास्तविक नीतियां या योजनाएं पेश नहीं कर रहे। सिर्फ विभाजन और डर ही पेश कर रहे हैं। वह यह शर्त लगा रहे हैं कि यदि वह लोगों को पर्याप्त रूप से डरा पाते हैं तो वह इस चुनाव को जीतने के लिए पर्याप्त मत जुटा सकते हैं। मेरा मानना है कि अमेरिकी लोग डरे हुए लोग नहीं हैं। हम इस बात का इंतजार नहीं करते कि कोई आकर हमपर शासन करे।’’ उन्होंने कहा कि हमारी ताकत उन आदर्शों से आती है, जिन्हें हम प्राथमिकता देते हैं। ये आदर्श हम सबको एक समान बनाते हैं और कहते हैं कि हम सभी लोग मिलकर पहले से भी बढ़िया संघ बना सकते हैं।

इसे भी पढ़िए :  धुंध के चलते चीन का बुरा हाल, देखिए तस्वीरें

ओबामा ने रूसी टीवी पर आने को लेकर भी ट्रंप की आलोचना की।

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY