संयुक्त अभ्यास के लिए पाकिस्तान पहुंची रूसी सेना

0
रूसी सेना

रूसी सेना पाकिस्तान के साथ संयुक्त अभ्यास के लिए पहुंच चुकी है। यह जानकारी सेना के एक प्रवक्ता ने दी। पाकिस्तान और रूस की जॉइंट ड्रिल शनिवार से शुरू होनी है। इस बीच रूस द्वारा ड्रिल कैंसल किए जाने की खबर भी आई थीं जो गलत साबित हुईं।

पाकिस्तानी सुरक्षाबलों के मीडिया विंग के इंटर सर्विस पब्लिस रिलेशंस के डीजी (ISPR)लेफ्टिनेंट जनरल आसिम सलीम बाजवा ने ट्वीट किया,’रूसी सेना की एक टुकड़ी पाकिस्तान और रूस की पहली जॉइंट ड्रिल के लिए पहुंच चुकी है।’ इस मिलिटरी एक्सरसाइज में लगभग 200 रूसी सैनिक हिस्सा लेंगे। इससे पहले ऐसी रिपोर्ट्स आईं थी कि उड़ी में 18 भारतीय सैनिकों के मारे जाने के बाद रूस ने ड्रिल कैंसल कर दी है। हांलाकि ऐसा नहीं हुआ।

दोनों देशों की सेनाओं के बीच यह संयुक्त अभ्यास दो हफ्ते तक चलेगा। इसे ‘फ्रेंडशिप 2016’ नाम दिया गया है। पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ड्रिल 7 अक्टूबर तक चलेगी। दोनों देशों की सेनाओं ने इस एक्सरसाइज के बारे में ज्यादा कुछ नहीं बताया है लेकिन कहा जा रहा है कि वे समरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण पर्वतीय इलाकों में भी अभ्यास करेंगे। यह जॉइंट ड्रिल इस बात की ओर भी इशारा करती है कि पाकिस्तान और रूस आपसी सैनिक सहयोग बढ़ा रहे हैं।

इसे भी पढ़िए :  मनोहर पर्रिकर बोले- सर्जिकल स्‍ट्राइक सौ फीसदी परफेक्ट हमला था

रूस में पाकिस्तानी ऐंबैस्डर काजी खलीलुल्लाह ने पिछले हफ्ते कहा था कि संयुक्त अभ्यास का संदेश साफ है- दोनों देश आपस में मिलिटरी और टेक्निकल सहयोग बढ़ा रहे हैं।

इसे भी पढ़िए :  मुस्लिम देशों पर बैन मामला: ट्रंप ने दी अदालत के फैसले को चुनौती

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY