इस देश में रेप की सज़ा कुछ भी नहीं !

0

तुर्की: तुर्की में होशियार अपराधियों के लिए रेप की सज़ा कुछ भी नहीं।सुनने में शायद अजीब लगे, लेकिन तुर्की में इन दिनों एक अजीब ट्रेंड चल रहा है। आंकड़ो की माने तो तुर्की में रेप की सजा काट रहे अपराधियो ने जेल से बचने के लिए एक नया तरीका इजाद किया है। रेपिस्ट्स, पीड़ित लड़कियों के साथ जबरदस्ती शादी करते हैं, और इस तरह से-कानूनी तौर पर- सज़ा पाने से बच जा रहे हैं ।
तुर्की के सुप्रीम कोर्ट द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक, इस तरह के अभी तक करीब तीन सौ शादियां रजिस्टर हो चुकी हैं। तुर्की सुप्रीम कोर्ट (अपील) के चीफ़ मुस्तफ़ा ने ये बात संसदीय कमेटी के सामने कही।मुस्तफ़ा ने ये भी कहा की पीड़ित लड़कियों में कई की उम्र पांच साल से भी कम है।एक उदाहरण देते हुए उन्होने बताया कि एक केस में एक नाबालिग लड़की के साथ तीन लोगों ने रेप किया। बाद में उनमें से एक ने उस लड़की के साथ जबरदस्ती शादी कर ली, और इस तरह से वो तीनों लड़के सज़ा पाने से बच गए।गौरतलब है कि तुर्की मे रेप की कानूनन सज़ा सोलह साल है।
तुर्की में महिलाओं के साथ हो रहे अपराध का लंबा इतिहास है।.मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पिछले साल करीब तीन सौ महिलाएं घरेलू हिंसा और सेक्स क्राइम का शिकार बनीं।

इसे भी पढ़िए :  खौफ का खात्मा ! तुर्की हमले में इस्लामिक स्टेट के 20 आतंकी ढेर

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY