रियो ओलंपिक स्थल के नजदीक सुरक्षाकर्मियों ने दो लोगों को मारी गोली, मौत

0

दिल्ली:
ओलंपिक उद्घाटन समारोह के आयोजन स्थल के पास पुलिस ने एक लुटेरे को गोली मार दी और एक दूसरे ओलंपिक स्थल के पास एक महिला मारी गयी।

शुक्रवार को हुई हिंसा से ओलंपिक खेलों की सुरक्षा में लगे 85,000 सैनिकों और पुलिस के सामने मौजूद चुनौती का पता चलता है। रियो पुलिस ने एक बयान में कहा कि मरकाना स्टेडियम के पास एक व्यक्ति लोगों से लूटपाट कर रहा था। एक पुलिस अधिकारी ने उसे रोका। बयान में कहा गया, ‘‘व्यक्ति हमले कर रहा था जिसके बाद सैन्य पुलिस के एक अधिकारी ने उसे गोली मार दी।’’ इससे कुछ घंटे तीन हथियारबंद लुटेरों ने एक महिला वास्तुकार की हत्या कर दी। महिला ओलंपिक वुलवार्ड के एक मुख्य प्रवेश द्वार से गुजर रही थी। ओलंपिक वुलवार्ड में ओलंपिक मशाल प्रज्ज्वलित है और यह प्रमुख पर्यटक आकषर्ण बन गया है। पुलिस ने बताया कि 51 साल की महिला ने भागने की कोशिश की लेकिन लुटेरों ने उसके सिर में गोली मार दी। रियो में सुरक्षा काफी चाक चौबंद है। शहर के पास के गरीब इलाकों के बड़े हिस्सों पर मादक पदार्थ तस्करों का कब्जा है।

इसे भी पढ़िए :  मेडल जीतना ही जिंदगी में सब कुछ नहीं: अमिताभ बच्चन

इस बार ओलंपिक खेलों की सुरक्षा कर रहे कर्मियों की संख्या 2012 के ओलंपिक खेलों की तुलना में दोगुनी है। रियो के अलावा ब्रासिलिया, बेलो होरिजोंतो, मनौस, सल्वाडोर और साओ पाउलो में भी कड़ी सुरक्षा की गयी है जहां फुटबॉल के मैच खेल जा रहे हैं।

इसे भी पढ़िए :  रियो ओलंपिक में सिल्वर जीतने वाली सिंधु को मिला सोने का रैकेट

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY