रूस में पुतिन ने फिर लहराया परचम, 51 फीसदी वोट के साथ हासिल की जीत

0
पुतिन

रूस में इस बार फिर से रुस के वर्तमान राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के सहयोगी दलों ने संसदीय चुनाव में आज आए नतीजों के अनुसार जीत दर्ज की हैं। इसी के साथ कम संख्या में पड़े मतों से संकेत मिलता है कि अगले राष्ट्रपति चुनाव से 18 महीने पहले सत्तारूढ़ पार्टी के लिए लोगों के उत्साह में कमी आई है।

putin3

सेन्ट्रल इलेक्शन कमीशन के प्राथमिक आंकड़ों के अनुसार सत्तारूढ़ यूनाइटेड रशिया पार्टी ने 51 प्रतिशत मत हासिल किए हैं। इन नतीजों से पुतिन की पार्टी का संसद के निचले सदन में प्रभुत्व बढ़ेगा।

इसे भी पढ़िए :  चीन-पाक की परमाणु मिसाइलों को हवा में ही मार गिराएगा यह सिस्टम, जानिए इसकी खासियत

पुतिन ने यूनाइटेड रसिया पार्टी के प्रचार से जुड़े कर्मियों से बातचीत में कहा कि यह जीत दर्शाती है कि यूक्रेन पर पश्चिमी देशों के प्रतिबंधों से खराब हुई अर्थव्यवस्था के बावजूद मतदाताओं को नेतृत्व पर भरोसा है। यूनाइटेड रशिया पार्टी की स्थापना पुतिन ने की थी।

इसे भी पढ़िए :  भारत-पाकिस्तान के बीच युद्ध जैसे हालात, उधर रूस और अमेरिका भी आमने-सामने, क्या होगा अंजाम?

राष्ट्रपति के सहयोगी इन नतीजों का इस्तेमाल 2018 के चुनाव प्रचार अभियान में करेंगे। हालांकि पुतिन ने अभी इस बात की पुष्टि नहीं की है कि वह दूसरे कार्यकाल के लिए खड़े होंगे। प्रधानमंत्री दिमित्री मेदवेदेव के साथ यूनाइटेड रशिया पार्टी के मुख्यालय पहुंचे पुतिन ने कहा  कि हम निश्चित तौर पर यह कह सकते हैं कि पार्टी ने अच्छे परिणाम हासिल किए है। वह जीत गई है।

इसे भी पढ़िए :  रूस के सभी 387 एथलीट्स ओलंपिक से बाहर, डोपिंग के चलते लगेगा प्रतिबंध !

सेन्ट्रल इलेक्शन कमीशन के अब तक के आंकड़ों के अनुसार लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ रशिया (एलडीपीआर) 15.1  प्रतिशत वोट हासिल कर दूसरे स्थान पर, कम्युनिस्ट पार्टी 14.1 प्रतिशत मतों के साथ तीसरे स्थान पर और रसिया पार्टी 6.4  प्रतिशत मतों के साथ चौथे स्थान पर है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY