COBRAPOST BREAKING ANNOUNCEMENT: दैनिक भास्कर ने 'ऑपरेशन 136: पार्ट-2' की स्क्रीनिंग के खिलाफ दिल्ली हाई कोर्ट से स्टे ले लिया है।
Exclusive

COBRAPOST BREAKING ANNOUNCEMENT: दैनिक भास्कर ने 'ऑपरेशन 136: पार्ट-2' की स्क्रीनिंग के खिलाफ दिल्ली हाई कोर्ट से स्टे ले लिया है।

कोबरापोस्ट |
May 25, 2018

{COBRAPOST BREAKING ANNOUNCEMENT: दैनिक ​​भास्कर ने 'ऑपरेशन 136: पार्ट-2' की स्क्रीनिंग के खिलाफ दिल्ली हाई कोर्ट से स्टे ले लिया है।}



दिनांक: 24 मई 2018

कोबरापोस्ट ने 'ऑपरेशन 136: पार्ट-1' नाम से एक तहकीकात दिखाई थी जिसमें 17 मीडिया संस्थानों और उनमें चल रही गड़बड़ी का खुलासा किया गया, जिसमें इन मीडिया संस्थानों को paid news चलाने, सांप्रदायिक एजेंडा चलाने, बड़े पैमाने पर ध्रुवीकरण करने और अवैध काले धन को स्वीकार करने की कोशिश करते देखा गया था। इस तहकीकात का पहला पार्ट 26 मार्च 2018 को जारी किया गया था।

हम अपने पाठकों और दर्शकों को सूचित कर रहे हैं 25 मई 2018 की शाम 3 बजे इसी तहकीकात का दूसरा हिस्सा 'ऑपरेशन 136: पार्ट-2' को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में रिलीज किया जाना था। लेकिन प्रेस क्लब को 24 मई  2018 की शाम दिल्ली हाई कोर्ट से एक आदेश मिला है, जो इस बात पर तर्क देता है कि "अगर 'ऑपरेशन 136: पार्ट-2' को सार्वजनिक डोमेन में जारी करने की अनुमति दी जाती है तो इससे अभियोगी की प्रतिष्ठा को कड़ी हानि और चोट पहुंचेगी, जिसकी कभी भरपाई नहीं की जा सकती " आपको बता दें कि ये अभियोगी दैनिक भास्कर समूह है, जो हमारी टीम द्वारा की गई तहकीकात में विशेष हिस्सा रखता है।

आदेश में कहा गया है कि ‘जब तक अदालत द्वारा हरी झंडी नहीं मिल जाती तब तक कोबरापोस्ट 'ऑपरेशन 136: पार्ट-2' को ना तो किसी भी सार्वजनिक डोमेन में और ना ही 25 मई 2018 की शाम 3 बजे, प्रेस क्लब ऑफ इंडिया में से इसे जारी कर सकता है’।

हालांकि जनता तक पूरी सच्चाई को पहुंचाने के लिए हम इस आदेश पर मंजूरी लेने के लिए अपनी पूरी कोशिश कर रहे हैं लेकिन देखना होगा कि क्या हम 25 मई, 2018 की शाम 3 बजे से पहले इसे हासिल करने में सक्षम हो पाएंगे। अगर हम 3 बजे से पहले मंजूरी नहीं ले पाते हैं तो हम 25 मई को होने वाली प्रेस कॉन्फ्रेंस को करने में असमर्थ होंगे।

 

“ऑपरेशन 136: पार्ट-2” की रिलीज के स्थगन के बारे में सार्वजनिक रूप से घोषणा की जाएगी।

 

 

 


If you like the story and if you wish more such stories, support our effort Make a donation.




Loading...

If you believe investigative journalism is essential to making democracy functional and accountable support us. »