एक्सक्लूसिव SUN-GROUP : हम आपको पैकेज के रूप में पेश किए जाने के संदर्भ में भेज सकते हैं और फिर आप ... इस बारे में निर्णय ले सकते हैं

SUN-GROUP : हम आपको पैकेज के रूप में पेश किए जाने के संदर्भ में भेज सकते हैं और फिर आप ... इस बारे में निर्णय ले सकते हैं

एलेक्स जॉर्ज,“so I will tell the team to work out and mail it to you. How, what is the best combination in terms of seconds. So, this is from which day to which day?”  


कोबरापोस्ट - May 25, 2018

If you like the story and if you wish more such stories, support our effort Make a donation.

सन ग्रुप एलेक्स जॉर्ज, नेशनल सेल्स हेड (GEC चैनल्स), सन ग्रुप; राजेश बी. कन्नन, सीजीएम (मार्केटिंग), दीनाकरन; अनुपम ज्योति दास, एकाऊंट मैनेजर, रेड FM, हैदराबाद; अमित शर्मा, सेल्स हेड, रेड FM, चंडीगढ़; शिव मंगल सिंह, असिस्टेंट मैनेजर, रेड FM, दिल्ली; दीपक सिंह भंडारी, सेल्स हेड, रेड FM, लखनऊ

1993 में डीएमके नेता मुरासोली मारन के पुत्र कलानिधि मारन ने सन ग्रुप को स्थापित किया, सन ग्रुप का दावा है कि वो सबसे बड़ा मीडिया समूह है, क्योंकि ये 33 टीवी चैनल चला रहा है। तमिल, तेलुगू, कन्नड़ और मलयालम समेत चार दक्षिण भारतीय भाषाओं के जरिए सन ग्रुप आज भारत में 95 मिलियन से अधिक परिवारों तक पहुंच चुका है। रेड FM के तहत 48 FM रेडियो स्टेशन, 2 दैनिक समाचार पत्र, दिनाकरन, जो एक दिन में लगभग 1.4 मिलियन प्रतियां बेचते हैं, और एक प्रमुख शामक तमिल मुरासु समेत 5 पत्रिकाएं भी हैं। देश के मीडिया परिदृश्य में दक्षिण की कणों की मजबूत उपस्थिति के अलावा, ये समूह फिल्म बनाने में भी है, जबकि यह अन्य व्यवसायों के बीच एक डीटीएच सेवा और आईपीएल फ़्रैंचाइजी भी चलाता है

पत्रकार पुष्प शर्मा जब सन ग्रुप चेन्नई मुख्यालय गए तो वहां उनकी मुलाकात एलेक्स जॉर्ज से हुई, एलेक्स सन ग्रुप में नेशनल सेल्स हेड हैं। पुष्प ने जॉर्ज को अपने एजेंडे के बारे में बताया इस पर जॉर्ज ने पूछा कि सर आप असल में चाहते क्या हैं। इस सवाल पर पुष्प ने जॉर्ज से कहा कि मैं साल 2019 के आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनज़र हिंदुत्व को लेकर एक मीडिया अभियान चला रहा हूं और इसके लिए आपके सन ग्रुप की मदद चाहता हूं और उम्मीद करता हूं कि आप मेरे अपने सभी मीडिया प्लेटफार्म पर मेरे एजेंडे को आगे लेकर जाएंगे। लेकिन इस बार हम अयोध्या और राम के नाम पर राजनीति नहीं करेंगे बल्कि इस बार हमारा अभियान श्रीमद् भागवत गीता और श्रीकृष्ण के जरिए होगा। जॉर्ज ने पूछा कि क्या आप विज्ञापन चलाना चाहते हैं। पुष्प जवाब देते हैं कि हां मैं चाहता हूं कि मेरा अभियान आपके सभी प्लेटफॉर्म डिजिटल, प्रिंट और इलेक्ट्रोनिक सब जगह चले। इसके साथ ही पुष्प अपने फोन के जरिए जॉर्ज को मीडिया अभियान के दौरान चलने वाले एक विज्ञापन का नमूना भी दिखाते हैं। विज्ञापन में श्रीमद् भगवत गीता का नाम सुनकर जॉर्ज पुष्प से दोबारा जानने की कोशिश करते हैं कि आखिर इस तरह के विज्ञापन के पीछे उनकी मंशा क्या है। पुष्प बताते हैं कि इस हिंदुत्व अभियान के माध्यम से, लोगों को ये पहचान कराई जाएगी कि वो हमें पहचान सकें कि हम हिंदुत्व के लिए हैं। जैसे कि आप जानते हैं कि बीते 25 साल में हमने अयोध्या और राम के नाम को राजनीतिक रूप से भरपूर इस्तेमाल किया है। पुष्प जॉर्ज को बताते हैं कि वो भगवत गीता के कट्टर समर्थक हैं। जैसे जैसे बातचीत आगे बढ़ती हैं जॉर्ज पुष्प को बताते हैं कि एक नीति के रूप में या एक सेटअप के रूप में, हम राजनीतिक रूप से अलगाव वाले लोग हैं। हम व्यापार के संदर्भ में नहीं करते हैं, हम इसके साथ मिश्रित नहीं होते हैं। आपको भी ये जानकर आश्चर्य होगा।

जॉर्ज पुष्प को बताते हैं कि हालांकि, उनके समूह की नीति अच्छी व्यवसाय को सुरक्षित करना है। क्योंकि मेरा विज्ञापन सीमित है और मुझे एक्स राशि (X amount) को लक्ष्य के रूप में बनाना है, क्योंकि मुझे शेयरधारकों के हितों की देखभाल भी करनी है, और साथ ही अन्य निवेशक का भी ध्यान रखना है जो हमसे लाभ प्रणाली के बारे में पूछते हैं। लिहाजा अपने निवेशकों को खुश करने के लिए हमारी कोशिश रहती है कि हम ज्यादा से ज्यादा लाभ कमाएं। अपनी कंपनी की बिजनेस पॉलिसी बताने के बाद जॉर्ज कहते हैं कि “ये सभी चैनल आप हमें बता सकते हैं कि आप क्या चाहते हैं। हम आपको पैकेज के रूप में पेश किए जाने के संदर्भ में [प्रस्ताव] भेज सकते हैं और फिर आप ... इस बारे में निर्णय ले सकते हैं” इसके बाद जॉर्ज ने अपने ग्रुप के चैनलों के बारे में बताना शुरू किया जिसमें कॉमेडी, सिनेमा और म्यूजिक चैनल भी शामिल थे। जॉर्ज ने पूछा कि “जैसे म्यूजिक चैनल में ब्रेक के तुरंत बाद अगर हम आपका भगवत गीता का विज्ञापन चलाएं तो इसके लिए आपको कोई आपत्ति तो नहीं है” पुष्प ने कहा हां बिल्कुल हम भी यही चाहते हैं। जॉर्ज इसी तरह अपने दूसरे चैनलों में भी इस तरह के मीडिया अभियान को चलाने के लिए तैयार थे उन्होंने कहा कि “We are ok with that. Similarly in comedy channel it will be a film comedy clipping … we don’t??? … Yeah, for every few clippings run, break comes [and] we run commercial and go on.” (यानी हम इसके लिए तैयार हैं, इसी तरह हम दूसरे चैनलों में भी आपके क्लिप चलाएंगे, जैसे ही ब्रेक होगा हम ब्रेक के दौरान आपके क्लिप चलाते रहेंगे।) इसके बाद जॉर्ज पूछते हैं कि उन्हें अपने विज्ञापन कौन सी भाषा में चलवाने हैं। पुष्प बताते हैं कि सन टीवी के लिए उनके पास 20 करोड़ का बजट है और वो चाहते हैं कि इस बजट का 50 फीसदी तमिल पर खर्च किया जाए। बजट, भाषा और विज्ञापन के समय जैसे मुद्दे पर चर्चा होने के बाद जॉर्ज पुष्प को प्रपोजल भेजने के लिए तैयार हो जाते हैं “Okay. So, this is your e-mail ID, so I will tell the team to work out and mail it to you. How, what is the best combination in terms of seconds. So, this is from which day to which day?”  (ठीक हैं तो ये आपका ईमेल आईडी है तो मैं अपनी टीम से कहूंगा कि इसपर काम करे और आपके मेल भेजे, सेकंड के मामले में सबसे अच्छा संयोजन क्या है और यह किस दिन से किस दिन तक है) पुष्प जॉर्ज को बताते हैं कि 31 मार्च से हमारे विज्ञापन चलने शुरू हो जाएंगे

मोटी रकम देने वाले इस ग्राहक को लपकने के लिए जॉर्ज ने पुष्प की राजेश बी कन्नम से भी मुलाकात कराई। राजेश सन ग्रुप के दैनिक अखबार दिनाकरन में CGM के पद पर कार्यरत हैं। जैसे ही पुष्प ने राजेश को अपना हिंदुत्व वाला एजंडा बताना शुरू किया कन्नम खुद को मोदी समर्थक साबित करने की कोशिश करते दिखे। राजेश पुष्प से पूछा कि 2019 में मोदी को लेकर क्या लगता है। पुष्प कहते हैं आने वाले 2019 के चुनाव में हम मोदी को जिताने की पूरी कोशिश करेंगे इसके लिए उनके पास काफी बजट है। आगे पुष्प राजेश को अपने हिंदुत्व के एजेंडा के बारे में बताना शुरू करते हैं। पुष्प बताते हैं कि अभियान की शुरूआत श्रीमद् भगवत गीता और कृष्ण की प्रवचनों से होगी ताकी चुनाव से 6 महीने पहले वो लोगों का रुझान अपनी तरफ मोड़ सकें और इस तरह वोटों का ध्रुवीकरण किया जा सके उस समय में जब विरोधी दल minority card जैसे हथकंडे अपनाएंगे। दिनाकरन अखबार के लिए प्रस्ताव और व्यापार संभावनाओं पर चर्चा करने के बाद मोदीभक्त के तौर पर राजेश कहते हैं “It has to be seen. There is current situation Modi ji has to win. In fact, I was telling him he will be here for 2025.” (ये देखना होगा फिहाल मौजूदा हालात बता रहे हैं कि मोदी जी ही जीतेंगे, हालांकि मैं तो ये कहता हूं कि मोदी ही 2025 तक सत्ता में रहेंगे)

आखिरकार पुष्प राजेश से कहते हैं कि वो उन्हें एक प्रपोज़ल बना के भेजें जिसपर रेट कार्ड वगैरह दर्ज हो। राजेश कहते हैं “It will be coming to you … I will give you the card rate what, what will be card rate what we are offer rate we are giving you … Everything will put in a complete way.” (ये आपतक पहुंच जाएगा, मैं आपको कार्ड रेट भेज दूंगा, कार्ड रेट और ऑफर रेट जो हम आपको देंगे, सब चीज़ तैयार तरीके से आपतक पहुंच जाएंगी)

एलेक्स जॉर्ज और कन्नन से मुलाकात में पाया गया कि सन ग्रुप के ये दोनों ही वरिष्ठ अधिकारी पुष्प के एजेंडा को चलाने के लिए तैयार थे। इसके बाद पुष्प ने हैदराबाद का रूख किया और यहां इनकी मुलाकात Red FM के एकाऊंट मैनेजर अनुपम ज्योति दास से हुई। आपको बता दें कि यहां Red FM का संचालन सन ग्रुप कर रहा है और इस रेडियो नेटवर्क के देशभर में 48 रेडियो स्टेशन हैं। इसे जनवरी 2006 में इंडिया टुडे ग्रुप से अधिग्रहित किया गया था। अन्य कंपनियों के अलावा, एनडीटीवी के पास भी Red FM में हिस्सेदारी भी है।

पुष्प से बातचीत में अनुपम इस बात को अच्छी तरह जान गए थे कि पुष्प उनके रेडियो स्टेशन से किस तरह मकसद पूरा करना चाहते हैं बावजूद इसके ज्योति दास पुष्प को बताते हैं कि वो उनके पक्ष में श्रीमद् भगवत गीता और भगवान कृष्ण की quotes भी बदल सकते हैं। ज्योति दास बताते हैं कि “Quote को हम लोग design कर लेंगे language and all for the easy understanding of the people  in a commercial way … वो quote basically क्या है कि quote है जो हम लोगों ने simplify करके लोगों को सुनाया है और आप लोगों को उसमें high light किया है

पुष्प ज्योति दास से पूछते हैं कि क्या आपने इससे पहले भी कभी इस तरह का प्रमोशन किया है जिसपर ज्योतिदास आश्वस्त कराते हुए कहते हैं कि “ऐसा कुछ हम लोगों ने पहले किया है लेकिन ऐसा आश्रम का हो वो भी कर सकते हैं मतलब कुछ भी किया है कुछ भी event है आप लोगों का वो हम promote कर सकते हैं लेकिन जो satire part है उसमें थोड़ा हम लोगों को workout करना पड़ेगा

पुष्प ज्योति दास को बताते हैं कि हमारे आश्रम को भारी मात्रा में donation मिलता है तो क्या आप पेमेंट cash में ले सकते हैं। अपनी लाचारी व्यक्त करते हुए ज्योति दास कहते हैं “Cash route out करने में वो थोड़ा issue है” पुष्प ज्योति से दोबारा सवाल पूछते हैं कि अगर ये काम किसी third party के जरिए कराया जाए इसपर ज्योति दास कहते हैं फिर कोई दिक्कत नहीं है “हां वो हो जाएगा that [we] can do.

ज्योति दास से डील पक्की होने के बाद पत्रकार पुष्प शर्मा चंडीगढ़ में Red FM के सेल्स हेड अमित शर्मा से मुलाकात करते हैं। पुष्प इन्हें अपना एजेंडा बताते हैं और कहते हैं कि पंजाब हिंदुत्व का माहौल बनाया जाए ताकि इसका फायदा बीजेपी को हो सके। इसपर अमित शर्मा करते हैं कि सर आपने इस काम के लिए एकदम सही रेडियो प्लेटफॉर्म को चुना है। अमित कहते हैं यहां पे तो बिल्कुल.. we have 72 stations in all over India..और यहां भी है तो I think we are No. 1”.  यहां पुष्प अमित को ये भी बताते हैं कि उनके पास हिंदुत्व पर आधारित 30 jingles तैयार हैं तो पहले से ही गुवाहाटी और कर्नाटक में रेडियो पर चल रही हैं। ये सुनने के बाद अमित इस अभियान को अपने रेडियो स्टेशन पर चलाने के लिए तकरीबन राजी हो जाते हैं। अमित पुष्प को कहते हैं कि “वो तो आप मेरे को ये send कर देना तो मैं इसी pattern पे यहां पंजाब के लिए बना दूंगा पुष्प अमित से पूछते हैं कि ये काम आप पंजाबी भाषा में करेंगे या फिर हिंदी में। जवाब में अमित सलाह देते हुए कहते हैं कि “Whatever you suggest …(जैसा आप कहेंगे) हिंदी रखें ज्यादा better होता है no doubt पंजाबी भी है पर हिंदी सबको समझ में आती है” आखिरकार दोनों की इस बात पर सहमति बनती है कि इस काम को हिंदी और पंजाबी में मिलाकर किया जाए।

आगे पुष्प अमित को बताते हैं कि हमारे अभियान का मकसद हिंदुत्व को प्रमोट करना है। इसके लिए मजबूत कंटेंट का सहारा लेते हुए, बिना किसी को अपमानित किए। अमित इस बात पर सहमति जताते हैं। पुष्प शर्मा को कहते हैं कि अभियान के प्रसारण के लिए उन्हें सुबह 5 से 7 बजे के बीच का वक्त सुझाएं क्योंकि हमारे पास प्रसारण के लिए पहले से ही तैयार सामग्री है। जिसमें हिंदुत्व का प्रचार होगा। पुष्प बताते हैं कि पंजाब में deal final करने के बाद वो सीधे जम्मू जाएंगे। ये सुनते ही अमित पुष्प को कहते हैं कि हमारा रेडियो स्टेशन जम्मू भी कवर कर सकता है।  अमित ने कहा कि तो जम्मू की जरूरत नहीं है आपको अगर in case हमारा होता है final जम्मू we have station”.

पुष्प अमित से कहते है कि soft Hindutva के जरिए एक माहौल तैयार किया जाएगा इसके बाद वो चाहते हैं Red FM पर उनके अभियान को उग्र तरीके से चलाया जाए और बीजेपी की प्रतिद्वंदी पार्टियों जैसे कांग्रेस, जनता दल, बसपा और सपा तो गिराया जाए। ये सुनते ही बिना एक पल की देरी किए अमित पूछते हैं “बीजेपी को छोड़ सारी”  पुष्प अमित को बताते हैं कि जब में हिंदुत्व एजेंडा कहूंगा तो उसका मतलब है सामप्रदायिता के बूते चुनावों में वोटों का ध्रुवीकरण जैसा कि 1990 में राम मंदिर के नाम पर हमने किया था। लिहाजा हमारे प्रतिद्वंदियों को उखाड़ फेंकने के लिए आपके पास व्यंगात्मक तरीके की सामग्री होनी चाहिए।

ये सुनकर अमित पूरी तरह से खुद को नीलाम करने पर उतर आते हैं और कहते हैं कि “वो cover up कर लेते हैं सारी पार्टी को बीच में ले लेते हैं मतलब वो as a channel कर लेते हैं कि उसमें वो common रखेंपुष्प अमित को कहते हैं कि अगर मैंने आपके लिए पैसों से भरा बैग तैयार रखा है तो आप एक ऐसा plan तैयार करें कि आपकी टीम हमारे पक्ष में इस तरह का कंटेट बना सके चाहे इसके लिए आपको बाहर से कुछ निपुण और पेशेवर लोग रखने पड़ें। सहमति जताते हुए अमित कहते हैं कि “हां तो basically हो गई ना...ये तो बीच बीच में ये satire चलेंगे बीच बीच में..ये programming जो आप कह रहे हैं भजन वो सब उसके बीच में ये चलेगा मोटा-मोटा ये है...ये ही कह रहे हो आप कि पांच से सात में भजन चलेंगे कृष्ण भगवान के चल गए किसी के चल गए उसके बीच-बीच में हम ऐसे satire मारेंगे जो.... पुष्प हामी भरते हुए अमित से कहते हैं कि हमारे अभियान का कटेंट इस तरीके से बनाया जाएगा जैसा अयोध्या में पुलिस गोलीबारी में कार सेवक की मौतों की घटनाओं को दिखाता है फिर गोधरा ट्रेन में आग को सांप्रदायिक प्रशंसकों का जुनून दिखाता हो इससे हमारे पक्ष में 2019 चुनावों का निर्माण होगा। पुष्प कहते हैं कि हमारे पूरे अभियान में हिंदुत्व पर पूरा जोर होना चाहिए ये सभी बातें सुनने के बाद Red FM चंडीगढ़ के सेल्स हेड अमित शर्मा हर बात पर सहमति जताते हुए कहते हैं हां वो तो है ही है

चंडीगढ़ में अमित शर्मा से मुलाकात कर पत्रकार पुष्प शर्मा Red FM दिल्ली के नोएडा ऑफिस का रुख करते हैं और यहां इनकी मुलाकात होती है Red FM दिल्ली के असिस्टेंट मैनेजर शिव मंगल से। शिव मंगल पुष्प की सारी मांगों को गौर से सुनते हैं। शिव मंगल को बताया जाता है कि अभियान का मुख्य उद्देश्य 2019 के चुनावों में बीजेपी के पक्ष में हिंदू वोटों को ध्रुवीकरण करना है वो भी संघ का नाम लिए बगैर। इसी बीच पुष्प शर्मा शिव मंगल के सामने अपने फोन पर पप्पू वाला एक Audio Jingle बजा देते हैं। इसे सुनकर वो अभियान शुरू करने के लिए सहमत हो जाते हैं। शिव मंगल कहते हैं कि “बिल्कुल अब जैसे I have heard in this creative तो इसमें  RSS का नाम है... RSS का we cannot promote तो ये जो creative है we can run”

रेडियो स्टेशन पर पुष्प का एजेंडा चलाने के साथ-साथ शिव मंगल उनसे वादा करते है कि वो उनके हिंदुत्व वाले एजेंडे को अपने facebook page के जरिए भी promote करेंगे ताकि ये एजेंडा ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाया जा सके। शिव मंगल ये भी वादा करते हैं कि उन्हें इस काम के लिए खासतौर पर एक pro-BJP (बीजेपी समर्थित) radio jockey भी रखना होगा। शिव मंगल पुष्प से कहते हैं कि “So we have our Red Fm India Facebook page and different RJs have their own different Facebook pages ... different fan following. So we can promote on our Red FM India page that is on pan-India but we cannot [bring on board] any RJ to promote because that page is their individual’s. If they like that post they can share but we cannot force. For example, Raunak is pro-BJP so he can share it [on] his will but if you talk about other RJs.” (तो हमारे पास हमारे RED FM इंडिया फेसबुक पेज हैं और अलग अलग RJ के अपने अलग-अलग फेसबुक पेज हैं इसलिए हम अपने RED FM इंडिया पेज पर प्रचार कर सकते हैं जो भारत भर में हैहम किसी भी RJ को बढ़ावा देने के लिए [बोर्ड पर ला सकते हैं] क्योंकि वह पेज उनके पर्सनल है। अगर वे उस पोस्ट को like करते हैं तो वे share कर सकते हैं लेकिन हम मजबूर नहीं कर सकते हैं जैसे कि रौनक बीजेपी समर्थक है, तो वो उसे अपनी मर्जी से share कर सकता है लेकिन ऐसी अपेक्षा दूसरे सभी RJs से नहीं कर सकते)

पुष्प कहते हैं कि अगर ऐसा है तो हम अपने अभियान की पैकेजिंग pan-India scale पर चलाने के लिए करते हैं यहां शिव मंगल कहते हैं हां हां बिल्कुल but the script I have to check with my legal team कि क्या राय है क्योंकि बहुत ज्यादा endorsement…” अभी शिव मंगल ये बात कह ही रहे थे कि अगले ही पल ये उसका समाधान सुझाते नज़र आए। शिव मंगल पुष्प को समझाते हैं कि कुछ चीज़ें word में नहीं लेकिन जब आप communicate करते हो तो सामने वाले को समझ आ जाती है, for example, अब ये राहुल बोल रहे हैं इधर से आलू निकलेगा उधर से सोना निकलेगा for example we will not use name Pappu but हम आलू और सोने पर ही अगर बात करें people get connected with that incident कि हां उन्होंने बोला था आलू जाएगा सोना आएगा

शिव मंगल के विचार की सराहना करते हुए पुष्प उनसे कहते है कि वो कुछ ऐसा रास्ता निकालें ताकि उनके दोनों उद्देश्यों को पूरा किया जा सके। पहला उद्देश्य जनता को हिंदूत्व के प्रति जागरुक करना और दूसरा उद्देश्य अपने राजनीतिक प्रतिद्वंदियों की जड़ें उखाड़ फेंकना। शिव मंगल ने दोहराया कि इस रेडियो स्टेशन से क्या उम्मीद की जा रही है। शिव मंगल करते हैं कि एक अपना रहेगा हिंदुत्व भगवत गीता की packaging और दूसरा rivals of भी हम moderate way में..

शिव मंगल से मुलाकात खत्म करने से पहले पत्रकार पुष्प शर्मा इनसे पूछते हैं कि क्या पहले भी उनके रेडियो स्टेशन ने किसी भी राजनीतिक संगठन या फिर बीजेपी के लिए ऐसी गंदी नौकरी की है। Red FM का ये मैनेजर हमें अपने रेडियो स्टेशन की पिछली गतिविधियों के बारे में बताता है जो केवल ये दिखाता है कि रेडियो स्टेशन की ना केवल राजनीतिक वर्ग पर बल्कि चुनाव नौकरशाही पर भी अच्छी पकड़ है। शिव मंगल कहते हैं कि “We have done during Uttar Pradesh election. We are doing in Gujarat election. So pan-India we have done in 2014 during election. At that time we was even official radio partner for Election Commission and we had done a campaign of button daba. You can search [it] on YouTube.” (हमने उत्तर प्रदेश चुनाव के दौरान किया है। हम गुजरात चुनाव में कर रहे हैं। तो पैन-इंडिया हमने चुनाव के दौरान 2014 में किया है। उस समय हम चुनाव आयोग के लिए आधिकारिक रेडियो पार्टनर भी थे और हमने बटन दबा अभियान किया था। आप इसे YouTube पर देख सकते हैं।)

Red FM के लखनऊ दफ्तर में भी कुछ ऐसी ही स्थिति देखने को मिली जब पत्रकार पुष्प शर्मा ने लखनऊ में सेल्स हेड दीपक सिंह भंडारी से मुलाकात की। यहां भी पुष्प ने इनसे अपने एजेंडा पर चर्चा की और बताया कि उन्हें श्रीमद् भगवत जीता प्रचार समिति के सौजन्य से भगवत गीता और भगवान श्री कृष्ण के उपदेशों के जरिए soft Hindutva का एजेंडा चलाना है। ताकि बीजेपी के पक्ष में एक माहौल तैयार किया जा सके जो सांप्रदायिकता के बूते आगामी 2019 के चुनाव में वोटों का ध्रुवीकरण किया जा सके। और आखिरकार इससे बीजेपी के प्रतिद्वंदी दलों जैसे कांग्रेस, सपा, बसपा और जनता दल की जड़े उखाड़ी जा सकें। हैरानी वाली बात ये है कि दीपक सिंह भंडारी को इस एजेंडा को अपने रेडियो स्टेशन पर चलाने में कोई परहेज नहीं था। भंडारी कहते हैं कि “हां हां चाहे कोई भी हो  पुष्प एक बार फिर पूछते हैं कि आपको इस एजेंडा पर काम करने में कोई दिक्कत तो नहीं है इस पर दीपक कहते हैं कि नहीं कोई दिक्कत नहीं है। भंडारी पुष्प से कहते हैं कि “नहीं नहीं बिल्कुल ही नहीं तो कब से आप लोग plan कर रहे हैं पुष्प कहते हैं कि वो अपनी टीम से इस बारे में चर्चा करने के बाद उनके पास वापस आएगें। आगे पुष्प भंडारी से पूछते हैं कि क्या उनका रेडियो स्टेशन पैमेंट की रकम को 60:40 के अनुपात में ले सकता है। यानी 60 फीसदी चैक के द्वारा और बाकी 40 फीसदी कैश के जरिए। जाहिर है पुष्प भंडारी को बताते हैं कि उनके पास अथाह पैसा है लेकिन भंडारी को ऐसा करने में भी कोई परेशानी नहीं है वो कहते हैं कि नहीं नहीं वो एक बार बात कर लेंगे वो कोई issue नहीं है उसको एक बार check कर लेंगे

भंडारी इस डील को लपकने के लिए बेताब थे वो पुष्प को अपने सीनियर अधिकारियों और टीम के बाकी सदस्यों से मिलवाने का निमंत्रण भी देते हैं। भंडारी कहते हैं कि “अभी आपको ना सर से भी मिलवा देते हैं और सर आप जो plan कर रहे हैं रेडियो पर approx कब तक start करने का है

पुष्प बताते हैं कि वो कभी भी स्टार्ट कर सकते हैं और उनके पास पैसे की कोई कमी नहीं है। भंडारी पूछते हैं कि “चलेगा जो हमारा on air jingles चलेगा या creaters??? चलेगा वो आप लोग बना कर देंगे कि हम लोग उसको...” जवाब में पुष्प कहते हैं कि हमारे लिए आप ये सामग्री अपने यहीं बनवा लीजिए हमें बजट में कोई समस्या नहीं है उसके लिए आपको पैसा दिया जाएगा। पैसे की बात सुनकर भंडारी इस काम के लिए भी तैयार हो जाते हैं और कहके हैं कि “हां वो तो हो जाएगा

अब पुष्प भंडारी को कहते हैं कि आपको हमारे राजनीतिक प्रतिद्वंदियों को उखाड़ना होगा। जैसा की Red FM की एक हास्य tagline है ‘बजाते रहो’ इसी की तर्ज पर पुष्प भंडारी को कहते हैं कि “political rivals की बजानी है इसी बीच भंडारी की सहयोगी निधी बीच में कहती हैं कि “हमारा बिल्कुल आपसे matching है हमारा Red FM बजाते रहो इसके बाद निधी Red FM की USP को विस्तार से बताती हैं और कहती हैं कि “हमारा थोड़ा सा तरीका अलग है और जैसे रेडियो चैनल्स कभी उनकी programming सुनेंगे तो हमारा तरीका और उनका तरीका अलग है.. हम चूंकी we are entertainment industry हम किसी को बोर तो नहीं करेंगे सर हमारे creators भी होंगे I think आपके ही जैसा हमने बनवाया है अब तो आपको परेशान करना हमारा काम है अब आगे बताते रहिएगा कि कैसे क्या creators है और क्या करना है

लखनऊ में Red FM की टीम के साथ बातचीत खत्म करने से पहले पुष्प इन्हें बताते हैं कि आपको हमारा अभियान चरणों में (phase-wise) चलाना होगा और जो content आप हमारे लिए बनाएंगे वो इस बात को दिमाग में रखकर बनाया जाए कि हमारा एजेंडा भटकने ना पाए। भंडारी पुष्प को अंतिम बैठक के लिए अपने कार्यालय में आमंत्रित करते हैं और कहते हैं “अच्छा तीन महीने का ना हम proposal बना के देंगे

If you like the story and if you wish more such stories, support our effort Make a donation.

Tags : SUN GROUP Operation 136 IICobrapost expose exclusive exclusive coverage Investigative journalism journalist paid news cash for news fourth pillar of democracy reporters Pushp Sharma Media on Sale


Loading...

Operation 136: Part 1

Expose