एक्सक्लूसिव EXCLUSIVE: माल्या के बाद…देश के दूसरे सबसे बड़े भगोड़े पर कोबरापोस्ट और टाइम्स नाउ का बड़ा खुलासा

EXCLUSIVE: माल्या के बाद…देश के दूसरे सबसे बड़े भगोड़े पर कोबरापोस्ट और टाइम्स नाउ का बड़ा खुलासा

EXCLUSIVE: माल्या के बाद


By Cobrapost.com - May 3, 2017

क्या आपको ये रिपोर्ट पसंद आई? हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं. हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें.

Winsome ग्रुप.. नाम तो सुना ही होगा, जी हां ठीक समझा आपने.. ये वही जानामाना ग्रुप है, जो अपनी डायमंड और गोल्ड ज्वैलरी को लेकर देशभर में मशहूर है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि इस कंपनी के प्रमोटर और गारंटर जतिन आर. मेहता का नाम देश के सबसे बड़े भगोड़ों की फेहरिस्त में शुमार हो गया है। जी हां, कोबरापोस्ट संवादाता दीपक कुमार ने अपनी तहकीकात के जरिए इस फर्जीवाड़े और इसे अंजाम देने वालों का खुलासा किया है।

देश की सबसे बड़ी जांच एजेंसी CBI ने भी माना है कि Winsome ग्रुप का प्रमोटर जतिन मेहता ..विजय माल्या के बाद देश का दूसरा सबसे बड़ा डिफॉल्टर है। CBI ने जतिन मेहता के खिलाफ कई FIR  भी दर्ज की हैं। आपको बता दें कि जतिन मेहता देश के कई बैंकों का करोड़ों रुपया ढकारकर, इऩ दिनों सिंगापुर में मौज की जिंदगी जी रहा है।

CBI  मुंबई में Winsome ग्रुप के प्रमोटर और डायरेक्टर्स के खिलाफ चार FIR दर्ज कर चुकी है। ये सभी FIR आपराधिक षड़यंत्र रचने, धोखाधड़ी करने और सरकारी अधिकारियों से बदसलूकी करने के आरोपों के तहत दर्ज की गई हैं। इस ग्रुप के प्रमोटर और डायरेक्टर्स पर IPC की धारा 120B, धारा 420, और धारा 13(2)r/w 13(1)(d)  के तहत मामले दर्ज हो चुके हैं। ये सभी FIR  अलग-अलग बैंकों की शिकायतों के बाद दर्ज की गई हैं।

पहली और दूसरी FIR विजया बैंक की शिकायत पर दर्ज की है, जिसका Winsome ग्रुप पर 214.35  करोड़ और 139.42 करोड़ रुपया बकाया है। 5 अप्रैल 2017 को इस मामले में दो FIR दर्ज की गई हैं। जिसका नंबर है RCBSM2017EOOO6 और RCBSM2017EOOO7 है।

तीसरी और चौथी FIR भी पांच अप्रैल 2017 को ही IDBI बैंक की शिकायत पर दर्ज की गई है, IDBI बैंक का भी Winsome ग्रुप पर 133.12 करोड़ और  55.68 करोड़ रुपये बकाया है। जिसे ना चुकाने पर IDBI बैंक ने Winsome ग्रुप के चीफ प्रमोटर जतिन मेहता के खिलाफ दो FIR दर्ज कराई। जिनता नंबर RCBSM2017EOOO4 और RCBSM2017EOOO5 है।

कोबरापोस्ट और टाइम्स नाउ की टीम ने कड़ी मेहनत कर Winsome ग्रुप के खिलाफ तमाम सुबूत इक्ट्ठे किए, ताकि देश के दूसरे सबसे बड़े फर्जीवाड़े और इसे अंजाम देकर विदेश भागने वाले दूसरे सबसे बड़े भगोड़े के बारे में आपको बता सकें। इसके अलावा Winsome ग्रुप के डायरेक्टर्स और प्रमोटर पर अलग-अलग बैंकों से गबन के आरोप हैं। कोबरापोस्ट और टाइम्स नाउ की इस साझा तहकीकात में Winsome ग्रुप के खिलाफ और भी कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं।

ज्यादा जानकारियों के और वीडियो के लिए यहां  क्लिक करें।


क्या आपको ये रिपोर्ट पसंद आई? हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं. हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें.

Tag : Winsome ग्रुप,,

Loading...

चर्चित खबरें

एक्सक्लूसिव