कागजों के पहाड़ में डूबा देश का सबसे बड़ा आईपीओ, डेडलाइन से पहले दिन-रात एक कर रहे सरकारी अधिकारी
राष्ट्रीय

कागजों के पहाड़ में डूबा देश का सबसे बड़ा आईपीओ, डेडलाइन से पहले दिन-रात एक कर रहे सरकारी अधिकारी

Newsdesk |
January 18, 2022

{अगर सबकुछ ठीक रहा तो साल 2022 भारत के आईपीओ बाजार के लिए बहुत बड़ा साबित होगा. अगर आप बिजनेस की खबरों और आर्थिक मोर्चों पर लिए जा रहे फैसलों में दिलचस्पी रखते हैं तो आपको पता होगा कि सरकार देश की सबसे बड़ी सरकारी बीमा कंपनी जीवन बीमा निगम का आईपीओ यानी आरंभिक सार्वजनिक निगम लाने की तैयारी कर रही है. }



18 जनवरी 2022 नईदिल्ली

एनडीटीवी की खबर के मुताबिक, लगभग दो सालों से सरकार इस विशाल अभियान में जुटी हुई है, लेकिन अभी तक आईपीओ को लेकर कोई स्पष्ट रूपरेखा सामने नहीं आ पाई है. Bloomberg की एक रिपोर्ट में LIC की कुल संपत्ति का आकलन 500 बिलियन डॉलर और लगभग 203 बिलियन डॉलर के आसपास वैल्यूएशन बताया गया है, अगर यह कंपनी स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्ट होती है, तो भारत का यह सबसे बड़ा आईपीओ होगा.भारत में LIC के आईपीओ की तुलना सउदी की दिग्गज ऑयल कंपनी Saudi Aramco की लिस्टिंग से की जा रही है. अरामको ने 29.4 बिलियन डॉलर की लिस्टिंग के साथ दुनिया का सबसे बड़ा आईपीओ डेब्यू किया था. ऐसे में एलआईसी का स्कोप कितना है, देश के पूंजीगत बाजार में इसका क्या असर होगा, वहीं विदेशी निवेशकों के लिए इस सरकारी कंपनी को लेकर कितनी उत्सुकता है, ऐसे कई सवाल हैं, जो फिलहाल खड़े हो रहे हैं और एलआईसी के आईपीओ को लेकर अटकलें भी पैदा कर रहे हैं क्योंकि तयशुदा वक्त के अनुसार आईपीओ लॉन्च होने में बस दो महीनों का वक्त रह गया है लेकिन रिपोर्ट के मुताबिक, कई पहलुओं पर निवेशकों को चिंताएं हैं. 

Source - NDTV

Read More >>


If you like the story and if you wish more such stories, support our effort Make a donation.




Loading...

If you believe investigative journalism is essential to making democracy functional and accountable support us. »