कोरोनावायरस : पिछले 24 घंटे में इस साल के सर्वाधिक 89,129 नए मामले आए सामने, 714 की हुई मौत
राष्ट्रीय

कोरोनावायरस : पिछले 24 घंटे में इस साल के सर्वाधिक 89,129 नए मामले आए सामने, 714 की हुई मौत

Newsdesk |
April 3, 2021

{भारत में कोरोना के हालात बेकाबू हो चुके हैं. पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 89,129 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की कुल संख्या 12,392,260 हो गई. पिछले सात महीने में सामने आए ये सर्वाधिक नए मामले हैं. आंकड़ों के अनुसार, इससे ज्यादा 20 सितंबर 2020 को एक दिन में संक्रमण के 92,605 नए मामले सामने आए थे. केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से शनिवार सुबह आठ बजे जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार, संक्रमण से 714 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 164110 हो गई. इससे पहले 21 अक्टूबर को 24 घंटे में संक्रमण से मौत के 717 मामले सामने आए थे. आंकड़ों के अनुसार, देश में लगातार 24वें दिन नए मामलों में बढ़ोतरी दर्ज की गई और इसके साथ ही उपचाराधीन मरीजों की संख्या भी बढ़कर 6,58,909 हो गई है. देश में अभी तक कुल 1,15,69,241 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं.}



03 अप्रैल 2021 नई दिल्ली

आंकड़ों के अनुसार, देश में पिछले 24 घंटे में जिन 714 लोगों की मौत हुई, उनमें से अकेले महाराष्ट्र के 481, पंजाब के 57, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के 16, केरल और दिल्ली के 14 और तमिलनाडु के 12 लोग शामिल थे. मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, देश में कोरोना संक्रमण के 89,129 के नए मामले सामने आए हैं. जिनमें से महाराष्ट्र के 47913, कर्नाटक के 4991, छत्तीसगढ़ के 4174 और दिल्ली के 3954 और तमिलनाडु के 3290 नए मामले शामिल हैं. पिछले एक हफ्ते में रोजाना आने वाले मामलों में तेजी से इजाफा देखने को मिला है. यह संख्या 62 हजार से पार करते हुए 90 हजार के पास पहुंच चुकी है. एक हफ्ते पहले 28 मार्च को एक दिन में 62,714 नए मामले सामने आए थे, 29 मार्च को यह संख्या बढ़कर 68,020 हो गई, 30 मार्च को 56211, 31 मार्च को 53480, एक अप्रैल को 72330 और दो अप्रैल यानी कल 81466 नए मामले सामने आए थे. इस रफ्तार से अनुमान लगाया जा सकता है कि कोरोना के दूसरी लहर किस कदर हानिकारक है. 

Source -NDTV

Read More >>


If you like the story and if you wish more such stories, support our effort Make a donation.




Loading...

If you believe investigative journalism is essential to making democracy functional and accountable support us. »