Thursday 24th of September 2020
सैयद सलाउद्दीन का एलान, बुरहान की बरसी पर एक हफ्ते प्रदर्शन करेगा हिज्बुल
राज्य

सैयद सलाउद्दीन का एलान, बुरहान की बरसी पर एक हफ्ते प्रदर्शन करेगा हिज्बुल

|
September 24, 2020

{जम्मू-कश्मीर में लगातार बिगड़ते हालात के बीच हिज्बुल चीफ सैयद सलाउद्दीन ने एक और ऐलान किया ह। सलाउद्दीन ने कहा कि वे लोग बुरहान वानी की शहादत की सालगिरह पर पूरे एक हफ्ते तक प्रदर्शन करेगा।}



जम्मू-कश्मीर में लगातार बिगड़ते हालात के बीच हिज्बुल चीफ सैयद सलाउद्दीन ने एक और ऐलान किया ह। सलाउद्दीन ने कहा कि वे लोग बुरहान वानी की शहादत की सालगिरह पर पूरे एक हफ्ते तक प्रदर्शन करेगा। सलाउद्दीन ने हुर्रियत जमात और हुर्रियत पसंद के आवाम से अपील की है कि हफ्ते भर तक होने वाले इस प्रोग्राम को सफल बनाए। हिज्बुल का यह प्रदर्शन 8 जुलाई से 13 जुलाई तक चलेगा। आपको बता दें कि 8 जुलाई को बुरहान वानी को मरे पूरा 1 साल हो जाएगा।

इसे भी पढ़िए : जम्मू-कश्मीर की सीएम महबूबा मुफ्ती की सफाई, 'नहीं दिया बुरहान वानी के परिजनों को मुआवजा'

आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर में आतंकी बुरहान वानी के सफाए के बाद से भारतीय सेना आतंक को मिटाने में ऐसे लगी कि सालभर में ही लगभग पूरे ग्रुप का सफाया कर दिया। सेना ने सालभर के अंदर हिजबुल मुजाहिदीन ग्रुप के आतंकवादियों का सफाया कर दिया। बुरहान को सेना ने पिछले साल जुलाई में मार गिराया था। उससे पहले 11 आतंकियों की फोटो शेयर कर आतंकियों ने घाटी में अपनी सक्रियता दिखाने की कोशिश की थी।

गौरतलब है कि पिछले कई दिनों से लगातार कश्मीर का माहौल बिगड़ा है। अभी हाल ही में कश्मीर के नौहटा में नमाज के दौरान ड्यूटी कर रहे DSP मोहम्मद अयूब पंडित की भीड़ ने पीट-पीटकर हत्या कर दी थी। जिससे माहौल बिगड़ा है।

इसे भी पढ़िए : अंबेडकर के प्रति असम्मान जताने के लिये BJP-RSS ने 6 दिसंबर को किया बाबरी विध्वंस : मायावती

हाल ही में बुरहान के दोस्त और उत्तराधिकारी सबजार को त्राल एनकाउंटर में मार गिराया गया था। बता दें कि अब तक 11 आतंकवादियों में से 9 मारे जा चुके हैं। फिलहाल सिर्फ दो ही आतंकवादी जिंदा है। उसमें से 1 आतंकवादी तारीक पंडित ने सरेंडर कर दिया है और 1 (सद्दाम पाद्दर) आतंकी फरार है।

इसे भी पढ़िए : बच्चे की मौत पर तिलमिलाए सीएम अखिलेश, लापरवाही के जुर्म में CMS निलंबित

मारे गऐ आंतकवादियों के नाम
1. बुरहान वानी 2. आदिल खांडे 3. नसीर पंडित 4. अफ्फाक भट्ट 5. सबजार भट्ट 6. अनीस 7. इशफाक डार 8. वसीम मल्लाह 9. वसीम शाह

बता दें की सोशल मीडिया के जरिए आतंकियों की फौज बनाने वाला बुरहान वानी को सेना ने एक ऑपरेशन में मार गिराया था। उसके मारे जाने के बाद पूरे कश्मीर में हिंसा भड़क गई थी। हिंसक प्रदर्शन किए गए थे। इन प्रदर्शनों में कई लोग मारे गए थे।


If you like the story and if you wish more such stories, support our effort Make a donation.




Loading...

If you believe investigative journalism is essential to making democracy functional and accountable support us. »