Thursday 23rd of May 2019
 सुदीप सेन के यूपी टूरिज़म का अध्यक्ष बनने की पीछे समाजवादी पार्टी को 5.25 करोड़ रुपये का चंदा
एक्सक्लूसिव

सुदीप सेन के यूपी टूरिज़म का अध्यक्ष बनने की पीछे समाजवादी पार्टी को 5.25 करोड़ रुपये का चंदा

महेशचंद्र डोनिया और दीपक कुमार |
April 26, 2019

बंगाल के मशहूर नज़रुल गीति गायक ने चंदे के बूते तत्कालीन समाजवादी पार्टी की सरकार में ऊंचा ओहदा पाया, लेकिन सेन और उनकी पत्नी ने चंदे में दी गई रकम का सत्यता से उल्लेख करना उचित नहीं समझा। समाजवादी पार्टी को चंदा देने वाले कई अन्य लोगों और कंपनीयों ने भी चंदे की रकम को ईमानदारी से नहीं दिखाया



नई दिल्ली। सार्वजनिक रूप से उपलब्ध दस्तावेजों का विश्लेषण करने पर कोबरापोस्ट को ऐसे व्यक्तियों और कंपनीयों के बारे में मालूम चला है जिन्होने वर्ष 2007-2014 के बीच उत्तरप्रदेश की समाजवादी पार्टी को बड़ी राशियाँ चंदे में दी थी। मगर सभी ने चंदे से संबन्धित जानकारी को इस या उस तरह से छुपाने की कोशिश की है। भारत में हर राजनीतिक पार्टी को इलैक्शन कमिशन में एफ़िडेविट के जरिए प्राप्त चंदे की जानकारी form 24ए पर annual रिटर्न के जरिए दाखिल करनी होती है। उत्तर प्रदेश की समाजवादी पार्टी ने भी प्राप्त चंदे की जानकारी साल दर साल दाखिल की। लेकिन समाजवादी पार्टी को साल 2007 से 2014 तक जो चंदा मिला उसको कुछ companies ने अपनी balance sheet में नहीं दिखाया और इसके अलावा चंदा देने वाली कुछ कंपनी और लोगों के PAN की details भी फर्जी पाई गईं। ये कुल रकम तकरीबन 7 करोड़ 11 लाख रुपए के करीब बैठती है। ये खुले तौर पर Company Act 2013 की धाराओं और IPC की धारा 420, IT Act की धाराओं का खुला उल्लंघन है।

मसलन साल 2011-12 में Sudeep Sen और Aditi Sen ने समाजवादी पार्टी को कुल 1,56,00,000 रुपए चंदा दिया। ये सारा पैसा axis बैंक की लखनऊ और दिल्ली शाखा से दिया गया। (Annex: Samajwadi Party 2011-2012.pdf, page-3, s.no.8,9,10,12) साल 2012-13 में Sudeep Sen और Aditi Sen ने समाजवादी पार्टी को कुल 2,19,00,000 रुपए का चंदा दिया। ये सारा पैसा axis बैंक की साल्ट लेक ब्रांच कोलकाता, बैंक ऑफ इंडिया की Bangalore ब्रांच, इंडियन बैंक की बैंग्लोर ब्रांच, स्टैंडर्ड chartered की कोलकाता ब्रांच और बैंक ऑफ इंडिया की Bangalore ब्रांच से दिया गया। (Annex: Samajwadi Party 2012-2013.pdf, page-2,3; s.no.2 to12) दिलचस्प बात ये है कि Sudeep Sen को समाजवादी पार्टी ने उत्तर प्रदेश Tourism Corporation का chairman भी बनाया था। इसके अलावा Sudeep Sen साल 2014 में समाजवादी पार्टी के ticket पर लोकसभा चुनाव भी लड़ चुके है।

वही साल 2013 -14 में Aditi Sen ने समाजवादी पार्टी को 1,50,00,000 रुपए का चंदा दिया। ये सारा पैसा बैंक ऑफ इंडिया की Bangalore ब्रांच से दिया गया। (Annex: Samajwadi Party 2013-2014.pdf, page-2; s.no.1 to 6) यानि कुल मिलकर Sudeep Sen और Aditi Sen ने समाजवादी पार्टी को तीन साल में 5,25,00,000 रुपए का चंदा दिया। ये सारा चंदा 6 अलग अलग बैंक खातो से दिया गया। दिलचस्प बात ये है कि Sudeep Sen ने इसमें चार अलग अलग नामों का इस्तेमाल किया मसलन इलैक्शन कमिशन में समाजवादी पार्टी द्वारा दाखिल form 24 ए में इनका नाम SUDEEP SEN दर्ज है। साल 2011-12 में SUDEEP SEN 2012-13 में SUNDEEP SEN दर्ज है। वही इनके DIN Number 00702273 में SUDIP SEN दर्ज है वही इनके PAN Card APTPS3453B में SUDIIP RANJAN SEN दर्ज है (Annex: SUDIP SEN DIN; SUDIP SEN PAN)। यानि चार अलग अलग नाम।

इसके अलावा M/s Honda Siel Cars India Ltd ने साल 2007-08 में समाजवादी पार्टी को 10,00,000 रुपए का चंदा दिया लेकिन अपनी balance sheet में इसका कोई जिक्र नहीं किया। (PDF File: 01130-Balance Sheet Associated Sched.pdf; Contribution Report_07_08.pdf, page-28, s.no.1)

Win Medicare Pvt Ltd ने साल 2011-12 में 25,00,000 रुपए साल 2014-15 में 25,00,000 रुपए यानि कुल 50,00,000 लाख रुपए का चंदा समाजवादी पार्टी को एचडीएफ़सी बैंक, केजी मार्ग, नई दिल्ली ब्रांच और The Shamrao Vithal Co-op Bank Ltd, East Patel Nagar branch, नई दिल्ली से दिया। Win Medicare Pvt Ltd ने भी अपनी balance sheet में इसका कोई जिक्र नहीं किया। (Samajwadi Party 2011-2012.pdf, page-2; s.no.2; Samajwadi Party 2014-2015.pdf, page-3; s.no.4; WIN MEDICARE PRIVATE LIMITED, 31.03.2015, BALANCESHEET)
G.S. Pharmabutor Pvt. Ltd. ने साल 2011-12 को 25,00,000 रुपए का चंदा समाजवादी पार्टी को एचडीएफ़सी बैंक कालकाजी ब्रांच नई दिल्ली से दिया लेकिन अपनी balance sheet में इसका कोई जिक्र नहीं किया। (Samajwadi Party 2011-2012.pdf, page-2; s.no.3; GS PHARMBUTOR PRIVATE LIMITED, 31.03.2012, BALANCESHEET)

इसके अलावा General Electoral Trust ने साल 2011-12 में पंजाब नेशनल बैंक नेहरू प्लेस ब्रांच, नई दिल्ली से 1,00,00,000 रुपए का चंदा समाजवादी पार्टी को दिया। General Electoral Trust का PAN Card नंबर AABTG2645D गलत निकला। (Annex: Samajwadi Party 2011-2012.pdf, page-3; s.no.11) इसके अलावा साल 2011-12 में Rajesh Yadav द्वारा दिया गया Central Bank of India, Ghaziabad branch से 1,00,000 रुपए का चंदा समाजवादी पार्टी को दिया। लेकिन Rajesh Yadav का पैन कार्ड नंबर APDPY2507N गलत निकला। (Annex: Samajwadi Party 2011-2012.pdf, page-2; s.no.1)

इसी तरह साल 2013-14 में Chatrapal Singh Yadav द्वारा स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, झाँसी ब्रांच द्वारा 1,01,000 रुपए का चंदा समाजवादी पार्टी को दिया गया। लेकिन इनका पैन कार्ड नंबर AAFTY1008F गलत पाया गया। (Annex: Samajwadi Party 2013-2014.pdf, page-3; s.no.7)

कोबरापोस्ट ने संबंधित पार्टी, लोगों और कंपनीयों को ईमेल के जरिए कुछ प्रश्न भी भेजे थे ताकि हम उनका पक्ष जान सके। स्टोरी पब्लिश करते वक़्त तक हमें किसी भी पक्ष का जवाब नहीं मिला। जैसे जैसे हमें इनसे जवाब मिल जाएंगे हम उन्हें भी यहाँ पोस्ट कर देंगे।

साल 2007 से 2014 के बीच समाजवादी पार्टी को दी गयी लगभग 7 करोड़ 11 लाख 1000 रूपये की रकम न सिर्फ संदेह के दायरे में है बल्कि कई मामलों में खुले तौर पर क़ानून की विभिन्न धाराओं का खुला उल्लंघन भी हुआ है।


If you like the story and if you wish more such stories, support our effort Make a donation.




Loading...

If you believe investigative journalism is essential to making democracy functional and accountable support us. »