सरकार के मजबूत इरादे: बढ़ाई जाएगी LOC की सुरक्षा, सीमापार से नहीं होगी घुसपैठ

0
loc
Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

उरी हमल के बाद इस वक्त सरकार के सामने लाइन ऑफ कंट्रोल यानी LOC की सुरक्षा व्यवस्था को मजबूत करना है। इस चुनौती से निपटने के लिए अब सरकार LOC की सुरक्षा को और ज्यादा मजबूत करने जा रही है। अब यहां किसी भी खतरे की पहचान के लिए जमीनी सेंसर, थर्मल इमेजिंग और निगरानी रडार में तत्काल रूप से बदलाव किए जाएंगे। अब LOC को मजबूत करना ही सरकार की पहली प्राथमिकता होगी।

इसे भी पढ़िए :  मोदी की पाकिस्तान यात्रा का निर्णय सही समय पर किया जाएगा: सरकार

इसके लिए अब सरकार सुरक्षा की दूसरी पंक्ति तैयार कर रही है। इसमें पाकिस्तान से मिलती सीमा और एलओसी पर डिटेक्शन डिवाइस लगाना (ग्राउंड सेंसर), थर्मल इमेजिंग और सर्विलांस राडार लगाना शामिल है। रिपोर्ट के मुताबिक मल्टी एजेंसी सेंटर ने चेतावनी दी है कि मौजूदा समय में LOC के जरिए घुसपैठ की कार्रवाई सबसे अधिक हुई हैं। मल्टी एजेंसी सेंटर (एमएसी) में आईबी, रॉ, मिलिट्री इंटेलिजेंस अर्द्धसैनिक बलों का इंटेलिजेंस शामिल है।

इसे भी पढ़िए :  'फेल न करने की नीति' पर सरकार लाएगी विधेयक

अगली स्लाइड में पढ़ें – LOC पर पिछले कुछ दिनों में पाकिस्तानी आतंकियों ने की घुसपैठ, वीडियो भी देंखें, next बटन पर क्लिक करें – 

Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

इसे भी पढ़िए :  सारदा घोटाला- पी.चिदंबरम की पत्नी नलिनी चिदंबरम को ईडी का समन

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY