माया का भागवत से सवाल- दो से अधिक बच्चे हुए तो खाने की व्यवस्था कैसे होगी?

0
फाइल फोटो।

नई दिल्ली। आगरा की बसपा रैली में आज(21 अगस्त) बसपा प्रमुख मायावती शुरू से ही आक्रामक अंदाज में दिखीं और अपने विरोधियों को तमाम मुद्दों पर जमकर घेरा। माया के निशाने पर मुख्य रूप से मोदी सरकार और आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत रहे। उन्होंने आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के हिंदुओं को अधिक बच्चे पैदा करने वाले बयान पर निशाने पर लिया। कहा, आखिर दो से ज्यादा बच्चों की रोटी की व्यवस्था केंद्र सरकार कैसे करेगी, यह भी तो बताए।

इसे भी पढ़िए :  सुकमा हमले में घायल CRPF जवान शेर मोहम्मद की मां ने कहा- मुझे अपने बेटे पर गर्व है।

मायावती ने कहा कि ‘‘आरएसएस प्रमुख हिंदुओं से कहते हैं कि दो से ज्यादा बच्चे पैदा करें। मैं उनसे कहना चाहती हूं कि आप कहते हैं कि ज्यादा बच्चे पैदा करो, फिर नरेंद्र मोदी और केंद्र सरकार से पूछिए कि क्या वे उन्हें खिलाने-पिलाने का इंतजाम करेंगे।’’

इसे भी पढ़िए :  ग्रामीण इलाकों के लिए मोदी सरकार लाई खास योजना, महिलाएं चलाएंगी बस

बसपा प्रमुख ने कहा कि दलितो के घरों में जाकर भोजन करने से क्या उनका सोशल स्टेटस सुधर जाएगा। भाजपा के लोग नाटक ना करें। भाजपा सरकार में मुस्लिम और धार्मिक लोगों के साथ अन्याय बढ़ा है। लव जेहाद और देश भक्ति के नाम पर मुस्लिमों का उत्पीड़न किया जा रहा है। इतना ही नहीं देश के राष्ट्रीय पर्वों का भी राजनीतिकरण किया जा रहा है।

इसे भी पढ़िए :  15 अगस्त को ही हो जाता उरी हमला, सेना ने कर दिया था नाकाम

मालूम हो कि भागवत ने आगरा में शिक्षकों के एक कार्यक्रम में देश में मुसलमानों के मुकाबले हिन्दुओं की आबादी वृद्धि दर में कमी संबंधी एक सवाल पर कहा था, ”कौन सा कानून कहता है कि हिन्दुओं की आबादी नहीं बढ़नी चाहिए। जब दूसरों की आबादी बढ़ रही है तो हिन्दुओं को किसने रोका है।”

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY