मुस्लिम समुदाय के दरवाजे तक पहुंचेगी मोदी सरकार, आज ‘प्रगति पंचायत’ की होगी शुरूआत

0
फाइल फोटो।

नई दिल्ली। धार्मिक अल्पसंख्यकों के कल्याण के लिए केंद्र की ओर से संचालित कार्यक्रमों के बारे में उनमें जागरूकता पैदा करने की मुहिम के तहत केंद्र सरकार गुरुवार(29 सितंबर) को ‘प्रगति पंचायत’ की शुरूआत करेगी। इस कवायद का मकसद मोदी सरकार के बारे में अल्पसंख्यकों के मन में बैठे ‘‘डर और गलतफहमियों’’ को दूर करना भी है।

केंद्रीय अल्पसंख्यक मामलों के राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) मुख्तार अब्बास नकवी इस अभियान की शुरूआत हरियाणा के मेवात से करेंगे। पिछले महीने एक दंपति की हत्या और परिवार के दो सदस्यों से सामूहिक बलात्कार के बाद मेवात में तनाव कायम हो गया था। हत्या और सामूहिक बलात्कार का आरोप खुद को गोरक्षा समूह का सदस्य बताने वाले कुछ लोगों पर लगा था।

इसे भी पढ़िए :  जन धन योजना पर मोदी सरकार राष्ट्र को मूर्ख बना रही है: कांग्रेस

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से मुस्लिमों के सशक्तिकरण का आह्वान किए जाने के कुछ दिनों बाद ‘प्रगति पंचायत’ की शुरूआत की जा रही है। नकवी ने कहा कि ‘‘यह हमारी ओर से शुरू किया जा रहा पहला, खास और अलग तरह का संपर्क कार्यक्रम है, जिसके दौरान हम लोगों को सामाजिक, शैक्षणिक, स्वास्थ्य एवं आधारभूत संरचना के क्षेत्र में विकास से जुड़ी गतिविधियों एवं उनके रोजगार के बारे में बताएंगे।’’

केंद्रीय मंत्री ने बताया कि मंत्रालय अपने कार्यक्रमों और कामकाज को सुधारने में स्थानीय लोगों से सुझाव भी मांगेगा। नकवी ने मोदी सरकार के बारे में राजनीतिक विरोधियों की ओर से चलाए जा रहे ‘‘दुष्प्रचार अभियानों’’ के लिए अल्पसंख्यकों के मन में ‘‘डर की भावना और गलतफहमियों’’ को जिम्मेदार ठहराया और कहा कि पंचायत से इस डर को दूर करने में भी मदद मिलेगी।

इसे भी पढ़िए :  मोदी सरकार की बात मानने से भारतीय रिजर्व बैंक का इनकार, दोनों में दरार

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि ‘‘यह (गलतफहमी) हमारे राजनीतिक विरोधियों ने पैदा की है, जिन्होंने अल्पसंख्यकों के विकास के बारे में कोई बात नहीं की।’’ नकवी ने जोर देकर कहा कि ‘प्रगति पंचायत’ का मकसद वोट बटोरना नहीं है, बल्कि सरकार के विकासात्मक एजेंडा को लागू करना है।

केंद्रीय मंत्री ने दावा किया कि ‘‘इससे पहले, वोट के सौदागरों ने अल्पसंख्यक समुदायों के लोगों को धोखा दिया। अब वोट का कारोबार नहीं होगा, बल्कि विकास का एजेंडा होगा ताकि समुदायों का कल्याण सुनिश्चित किया जा सके।’’

इसे भी पढ़िए :  एनएसजी पर खुलकर पाकिस्तान के समर्थन में उतरा चीन

पंचायत के उद्घाटन के अलावा नकवी पलवल के हथनी इलाके में लड़कियों के लिए 100 बिस्तरों वाले एक छात्रावास का भी उद्घाटन करेंगे। वह नूह और नगीना में स्कूलों के स्टाफ क्वार्टरों का भी उद्घाटन करेंगे।

इसके अलवा केंद्रीय मंत्री चिलवाली में एक मॉडल स्कूल की आधारशिला भी रखेंगे नकवी तीन अक्तूबर को राजस्थान के अलवर जिले के तिजारा में भी ऐसे ही एक कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY