पटना की इस लड़की को मालूम था कि उरी में होगा आतंकी हमला, अधिकारियों ने नहीं मानी इसकी बात

0
आतंकी
Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

हिंदी दैनिक हिंदुस्तान के हवाले से खबर है कि भारत की एक बेटी को उरी आतंकी हमले के बारे में 10 दिन पहले ही पता लग गया था। जिसके बाद उसने इस बारे में पुलिस को भी जानकारी दी। लेकिन वक्त रहते कोई कार्रवाई ना होने पर आतंकी उरी में अपनी नापाक साजिश को अंजाम देने में कामयाब हुए और नतीजा आपके सामने हैं। देश के 18 वीर जवान शहीद हो गए। हिंदुस्तान अखबार ने इस खबर को अपनी एक्सक्लूसिव स्टोरी बताते हुए खबर को फ्रंट पेज पर प्रकाशित किया है।

इसे भी पढ़िए :  अमेरिका का दावा: इराक में मारे गए 800 ISIS आंतकी

दरअसल ओमान में भारत की बेटी जो पटना की रहने वाली है, ने 10 दिन पहले रामपुर के एक आरटीआई कार्यकर्ता को व्हाट्सएप से जानकारी दी कि वहां कुछ लोग कश्मीर में आतंक फैलाने की योजना बना रहे हैं। उन्हें पैसे भी कहीं से भेजे जा रहे हैं। यही नहीं ये भी पता चला है कि ये लोग पाक अधिकृत कश्मीर से ताल्लुकात रखते हैं। कहीं न कहीं इस मामले के तार उरी आतंकी हमले से जुड़ते दिखते हैं, लेकिन असल खुलासा तो जांच रिपोर्ट आने के बाद ही होगा।

इसे भी पढ़िए :  बैन पर NDTV का बयान, कहा- सभी की कवरेज एक जैसी थी

दरअसल इस बात का खुलासा तब हुआ जब ओमान में रहने वाली भारतीय युवती ने अपने दोस्त जो रामपुर में रहता है, को व्हाट्सएप के जरिए इसकी जानकारी दी। उनका दोस्त रामपुर में एक आरटीआई कार्यकर्ता है। RTI कार्यकर्ता फौरन सजग हो गए, उन्होंने उस युवती से चैट कर सारी जानकारी ली। इसके बाद उन्होंने इसकी पूरी जानकारी रामपुर एसएसपी को दी। अब इस पूरे मामले की इंक्वायरी क्राइम ब्रांच और ATS कर रही है।

इसे भी पढ़िए :  अमेरिकी मीडिया में छपे पाकिस्तान के कच्चे चिट्ठे, कहा-'पाक को ज्यादा बर्दाश्त नहीं करेगा भारत'

चलिए हम आपको पढ़ाते हैं कि ओमान में भारत की बेटी और रामपुर में आरटीआई कार्यकर्ता की क्या बातचीत हुई और उसने क्या चौंकाने वाली बात साझा की।

अगले स्लाइड में पढ़िए दोनों के बीच हुई पूरी बातचीत, next बटन पर क्लिक करें

Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY