राफेल विमान सौदे को मंजूरी, शुक्रवार को डील पर होंगे हस्ताक्षर

0
भारतीय वायुसेना
Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

एक दशक बाद आखिरकार भारतीय वायुसेना को फ्रांस के आधुनिक लड़ाकू विमान राफेल मिलना आधिकारिक तौर पर तय हो गया है।  23 सितंबर (शुक्रवार) को भारत फ्रांस के साथ राफेल डील पूरी कर लेगा।

सूत्रों के मुताबिक, यह सौदा 7.87 बिलियन यूरो यानी करीब 59 हजार करोड़ रुपये में होगा। इस सौदे के अंतर्गत 36 राफेल लड़ाकू विमान भारत को मिलेंगे। फ्रांस के रक्षा मंत्री ज्यां वेस ली ड्रियान डील पर हस्ताक्षर करने के लिए भारत आएंगे।

इसे भी पढ़िए :  11 नवंबर तक किसी भी नेशनल हाइवे पर टोल टैक्स नहीं लगेगा

7.87 अरब यूरो में से, फ्रांस 50 फीसदी ऑफसेट प्रावधान पर भी सहमत हो गया है। इसका मतलब यह है कि इस क्लॉज़ के तहत फ्रांस सौदे का 50 प्रतिशत भारत में फिर से निवेश करेगा या इतनी ही राशि सैन्य उपकरणों में निवेश करेगा।

इसे भी पढ़िए :  आज से संसद का मानसून सत्र शुरु, सरकार को घेरने की तैयारी में विपक्ष

भारत-फ्रांस के बीच हुए  अंतर-सरकारी समझौता के मुताबिक कीमतों में 10 फीसदी की बढ़ोतरी शामिल थी। वहीं, सरकार ने दावा किया है कि वह सौदेबाजी में राफेल के दामों को करीब 4500 करोड़ रुपये कम करवाने में सफल रही है।

इसे भी पढ़िए :  अमेरिकी डेमोक्रेटिक पार्टी के नेताओं के झूठ से थक चुके हैं: डोलान्ड ट्रंप
Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY