UN: शरीफ ने नहीं दिखाई ‘शराफत’, आतंकी वानी को बताया कश्मीर की आवाज

0
शरीफ़
फाइल फोटो।

नई दिल्ली। संयुक्त राष्ट्र में कश्मीर मुद्दा उठाते हुए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने मारे गए हिजबुल कमांडर बुरहान वानी की तारीफ करते हुए उसे ‘‘युवा नेता’’ बताया। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि भारत के साथ सभी लंबित मुद्दों खासकर जम्मू कश्मीर के शांतिपूर्ण समाधान के लिए ‘‘गंभीर और निरंतर बातचीत’’ के लिए तैयार हैं।

शरीफ ने संयुक्त राष्ट्र महासभा के सत्र में अपने 20 मिनट के संबोधन में ज्यादातर कश्मीर और घाटी में मौजूदा हालात पर बात की और कहा कि पाकिस्तान ‘‘आत्मनिर्णय के लिए कश्मीरी लोगों की मांग का पूरी तरह समर्थन करता है।’’

इसे भी पढ़िए :  भारत के दबाव से घबराए नवाज, कहा: पाकिस्तान भारत से वार्ता के लिए तैयार

उन्होंने ‘‘न्यायेतर हत्याओं के लिए स्वतंत्र जांच’’ की और कश्मीर के लिए संयुक्त राष्ट्र के तथ्यान्वेषी मिशन की मांग की जिससे कि इन अत्याचारों के दोषियों को दंडित किया जाए। यह जोर देते हुए कि कश्मीर विवाद के समाधान के बिना पाकिस्तान और भारत के बीच शांति और संबंध सामान्य नहीं हो सकते, शरीफ ने घाटी में मौजूदा अशांति के संबंध में कई आरोप लगाए। भारत अशांति के लिए पाकिस्तान को जिम्मेदार ठहराता है।

इसे भी पढ़िए :  जाकिर नाइक का चैनल पीस टीवी के प्रसारण पर लगेगी रोक?

कश्मीर में हालात पर बात करते हुए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने आठ जुलाई को मुठभेड़ में मारे गए वानी का जिक्र ‘‘युवा नेता’’ के तौर पर किया और कहा कि वह लोकप्रिय और शांतिपूर्ण आजादी आंदोलन, नये कश्मीरी इंतिफादा का प्रतीक बन कर उभरा।

इसे भी पढ़िए :  इस बार दशहरा होगा सबसे खास, धू-धू कर जलेगा पाकिस्तान और आतंकवाद!

शरीफ ने कहा कि भारत की नृशंसता का पूरा दस्तावेज है और पाकिस्तान जम्मू कश्मीर में लगातार तथा भीषण उल्लंघनों के बारे में महासचिव के साथ सूचना और साक्ष्यों से जुड़ा एक डोजियर (दस्तावेज) साझा करेगा।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY