सिंधु समझौते पर मोदी का आक्रामक रूख – ‘खून और पानी एक साथ नहीं बहेगा’

0
स्वच्छता मिशन
Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

नई दिल्ली : पाकिस्तान के साथ सिंधु समझौते को तोड़ने के मुद्दे पर मोदी ने आज अधिकारियों और मंत्रियों के साथ मीटिंग की। भारत और पाकिस्तान के बीच जारी तनाव के बीच प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने और सख्त तेवर अपनाते हुए कहा कि ‘खून और पानी एक साथ नहीं बहते’ है। सोमवार को सिंधु जल समझौते पर हुई एक बैठक के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने ये बातें कहीं। बैठक में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, विदेश सचिव एस. जयशंकर, जल संसाधन सचिव और PMO के आला अधिकारियों ने हिस्सा लिया।

इसे भी पढ़िए :  कांग्रेस ने यूनिफॉर्म सिविल कोड के जबरदस्ती ‘थोपे जाने’ का विरोध किया

बैठक में उड़ी में हुई आतंकी हमले के मद्देनजर पाकिस्तान के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने पर भी चर्चा हुई। इस हमले में 19 सैनिक शहीद हो गए थे। गौरतलब है कि उड़ी हमले के बाद पाकिस्तान के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग जोर पकड़ रही है जिसके तहत सिंधु नदी समझौता रद्द करने पर विचार किया जा रहा है।
अगले पेज पर पढ़िए- सिंधु समझौते से कश्मीर को क्या है नुकसान

इसे भी पढ़िए :  पीएम मोदी ने कहा आतंकवाद सबसे बड़ी चुनौती मिलकर लड़ेंगे दोनों देश
Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY