जनधन योजना का एक और सच आया सामने, पढ़िये कैसे अधूरा रह गया मोदी का सपना?

0
मोदी
Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

जिस जुनून से प्रधनामंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वच्छ भारत मिशन की शुरूआत की थी अब वो खत्म सा होता दिख रहा है। जिन स्थानों पर शुरूआत में सफाई की गई थी, उन्ही स्थानों पर गंदगी का अंबार लगा है। स्वच्छ भारत मिशन की अगुवाई करने वाली संस्थाएं भी खामोश हो गई है।

इसे भी पढ़िए :  मैक्सिको के क्लब में गोलीबारी, 5 लोगों की मौत

इसी अभियान के तहत 2019 के अंत तक भारत को खुले में शौच से मुक्त (open defecation-free) बनाने की बात कही गई थी। आकड़ों दिखाते हैं कि यह मिशन अभी भी दूर हैं, कुल 4, 041 शहरों मे से केवल 141 सिटीज और कुल 6.08 लाख गांवों के छठवें से भी कम को खुले में शौच से मुक्त (ODF) घोषित किया गया है।

इसे भी पढ़िए :  पढ़िये किन-किन को नहीं मिलेगा 'प्रधानमंत्री आवास योजना' का लाभ, मोटरसाइकिल और कुंवारापन बन सकता है बाधा

आगे पढ़िये

Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY