हरियाणा में आर्थिक रूप से पिछड़े लोगों के लिए 10% आरक्षण पर रोक

0
आरक्षण
जाट आंदोलन की तस्वीर

हरियाणा में अब आर्थिक तौर पर कमजोर वर्ग को आरक्षण का लाभ नहीं मिलेगा। पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट ने राज्य सरकार द्वारा इस वर्ग के लिए जारी 10 प्रतिशत आरक्षण पर रोक लगा दी है।

इसे भी पढ़िए :  कार्ड नहीं अब हाथ में बंधी इस घड़ी से दिल्ली मेट्रो में कर सकेंगे पेमेंट

इस आरक्षण के खिलाफ हाईकोर्ट में याचिका दायर की गई थी, जिसमें कहा गया था कि आरक्षण सामाजिक एवं आर्थिक पिछड़ेपन के आधार पर दिया जाता है, केवल आर्थिक आधार पर किसी को आरक्षण नहीं दिया जा सकता। इसके लिए याचिकाकर्ता ने सुप्रीम कोर्ट के इंदिरा साहनी केस का हवाला दिया था। इन दलीलों को मानते हुए हाईकोर्ट ने इस आरक्षण पर रोक लगा दी है।

इसे भी पढ़िए :  महंगाई की मार, बढ़ा बसों का किराया

गौरतलब है कि इससे पहले गुजरात सरकार ने भी इसी तरह के आरक्षण की घोषणा की थी, जिस पर हाईकोर्ट ने रोक लगा दिया था।

इसे भी पढ़िए :  पंजाब के पूर्व डीजीपी केपीएस गिल का निधन

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY