शहीद के परिवार की दर्दनाक दास्तान: तिरंगे में लिपटे थे पापा, बेटियां दे रही थीं एग्ज़ाम

0
शहीद
Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

एक तरफ जहां उरी हमले में देश के शहीदों पर उनका परिवार आसूं बहा रहा है, वहीं एक जवान की बेटियों ने इन आसुंओं से लड़ कर विवेक से काम लिया। रविवार को आतंकी हमले में शहीद हुए बिहार के गया निवासी सुनील कुमार विद्यार्थी के शहीद होने के बाद बच्चियों के आंसू थम नहीं रह थे, लेकिन पढ़ाई की भी चिंता थी। घर में गमगीन माहौल के बाद भी ये बेटियां एग्ज़ाम देने स्कूल पहुंचीं।

इसे भी पढ़िए :  पुत्र की सलाह पर संयुक्त मोर्चा की सरकार में PM पद से किया था इनकार: चंद्रबाबू नायडू

shaheed-sunil_1474282916

सोमवार को डीएवी मेडिकल स्कूल में शहीद सुनील की तीनों बेटियां आरती, अंशु और अंशिका एग्ज़ाम देने पहुंचीं। इन बच्चियों को देख प्रिंसिपल आशीष कुमार भी हैरान थे। वह तीनों के पास गए और उन्हें सांत्वना दी। स्कूल मैनेजमेंट ने इन बच्चियों का सोमवार का एग्जाम तो लिया, लेकिन आने वाले पेपर्स में उन्हें गैरहाजिर रहने की छूट दे दी। इनके लिए अब अलग से एग्जाम कंडक्ट किया जाएगा।

इसे भी पढ़िए :  VIDEO: कैराना में ओवैसी बोले, दंगों में बहा मुसलमानों का खून, मां-बहनों का हुआ बलात्कार, किसी ने नहीं की मदद

छुट्टी लेकर घर आने वाले थे सुनील अगली स्लाईड में पढ़िए

Prev1 of 2
Use your ← → (arrow) keys to browse

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY