पठानकोट: सर्च ऑपरेशन खत्म, कुछ भी संदिग्ध नहीं मिला

0
फोटो: साभार

नई दिल्ली। पंजाब में अंतरराष्ट्रीय सीमा से सटे पठानकोट जिले में सेना की वर्दी पहने हथियारबंद लोगों की संदिग्ध गतिविधियों की सूचना मिलने के मद्देनजर तलाशी अभियान को दो दिन बाद बुधवार की रात रोक दिया गया। गौरतलब है कि पठानकोट स्थित वायुसेना ठिकाने पर इसी वर्ष जनवरी में आतंकवादी हमला हुआ था।

पठानकोट के एसएसपी राकेश कौशल ने कहा कि हमने तलाशी अभियान रोक दिया है, क्योंकि कुछ भी संदिग्ध नहीं मिला है। पंजाब पुलिस ने पड़ोसी राज्य हिमाचल प्रदेश की पुलिस के साथ मिलकर राज्य के पहाड़ी इलाके भदरोया में सयुक्त खोज अभियान चलाया था। अभियान के दौरान दोनों राज्यों की पुलिस ने जंगल में करीब 5-6 किलोमीटर के क्षेत्र में छानबीन की है।

इसे भी पढ़िए :  गुजरात: राजकोट के बैंक में एक ही मोबाइल नंबर से खोले गए दर्जनों खाते, 871 करोड़ रुपये की हेराफेरी का आरोप

पंजाब पुलिस के 200 और हिमाचल प्रदेश पुलिस के 50 कर्मियों ने इस संयुक्त खोज अभियान में हिस्सा लिया, लेकिन कुछ भी संदिग्ध नहीं मिला है। पुलिस ने मंगलवार को डलहौजी रोड के साथ सेना के कंटोनमेंट क्षेत्र के पास तलाशी अभियान चलाया था। रात को पंजाब पुलिस ने अभियान निलंबित कर दिया था, लेकिन रात भर सख्त चौकसी जारी रही।

इसे भी पढ़िए :  पाक से आया घुसपैठ की कॉल, पठानकोट और गुरदासपुर में हाई अलर्ट  

सेना की वर्दी पहने हथियारबंद लोगों की संदिग्ध गतिविधियों की सूचना मिलने के बाद पठानकोट और आसपास के क्षेत्रों में सतर्कता बढ़ा दी गयी है। किसी प्रकार की अप्रिय घटना को टालने या विफल करने के लिए पुलिस चौकियां बनाई गई है।

इसे भी पढ़िए :  गुजरात तट से पकड़ी गई पाकिस्तान से आई संदिग्ध नाव, जांच में जुटी सुरक्षा एजेंसियां

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY