ये चमत्कार नहीं तो क्या है ? 6 साल के बच्चे के पेट में पल था एक और बच्चा, देखें तस्वीरें

0
चमत्कार

भले ही हम वैज्ञानिक का में जी रहे हैं। हमारे चारों तक विज्ञान से विकसित चीजें दिखाई देती हैंं लेकिन कई बार ऐसे चमत्कार होते हैं, जिनके आगे विज्ञान भी बौना नज़र आने लगता है। ऐसा ही एक चमत्कार हुआ है उत्तरप्रदेश के बनारस शहर में। वाराणसी के एक निजी अस्पताल में झारखंड के गढ़वा जिले के निवासी 6 वर्षीय रितेश के पेट में अविकसित भ्रूण मिला है। डॉक्टरों ने दावा किया है कि ऐसा मामला 5 लाख में से किसी एक बच्चे में पाया जाता है।

1

दिलचस्प बता ये है कि बच्चे के पेट में अविकसित भ्रूण उसके पिता के स्पर्म से बना था, जो उसका जुड़वां भाई था।डॉक्टरों ने बताया कि 6 साल के बच्चे पेट के अंदर 6 सालों से ये अविकसित भ्रूण डेवलप हो रहा था, जो उसी का ट्वीन्‍स या यूं कहें कि उसका (जुड़वां)भाई था। अविकसित भ्रूण का सिर, ब्रेन, रीढ़ की हड्डी, स्पाइन और हाथ पांव का स्ट्रेचर विकसित हो रहा था। हालांकि, ये कभी स्वस्थ जन्म नहीं लेता।
2
जानकारी के अनुसार झारखंड निवासी वीरेंद्र भारतीय ने बताया कि लगभग 7 माह पहले उनका बेटा रितेश अक्सर पेट में दर्द होने की बात कहता था। उन्होंने उसे कई डॉक्टरों को दिखाया लेकिन कुछ पता नहीं चला। बेटा अक्सर पेट दर्द की शिकायत करता रहता था। बेटे की ऐसी हालत को देख परिजन बहुत परेशान थे। इसके बाद उन्होंने उसे स्थानीय डॉक्टरों को दिखाया। एक डॉक्टर ने बताया कि रितेश के पेट में कोई गांठ हो सकती है।
3
चिकित्सकों की सलाह पर बालक की काशी हिंदू विश्वविद्यालय (बी.एच.यू.) के सर सुंदर लाल अस्पताल में जांच करवाई गई। जांच में पेट में गांठ होने की पुष्टि हुई। उन्होंने बताया कि कुछ डॉक्टरों की सलाह पर उसे एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती करवाया गया, जहां ऑप्रेशन के बाद अविकसित भ्रूण निकाला गया। उन्होंने बताया कि डॉक्टरों ने लगभग तीन घंटे के ऑपरेशन के बाद अविकसित भ्रूण निकाला। उसका इलाज चल रहा है।
अगले स्लाइड में पढ़ें -क्या हैं लक्षण, कैसे पता लगता है कि बच्चे के पेट में पल रहा है एक और बच्चा
इसके लक्ष्ण में मुख्य रूप से पेट का सूजन बढ़ता है। पेट में रह-रह कर दर्द होता है और शरीर सुस्त पड़ता है। पिता वीरेंद्र कुमार भारती की माने तो उनके बच्चे को कुछ साल पहले दर्द होना शुरू हुआ था। जिसे बाद में दवा आदि से ठीक कर लिया गया, लेकिन इधर 4 महीने से वो ढंग से खा-पी नहीं रहा था। उसके पेट में दर्द भी रहता था। हालांकि, जब डॉक्‍टरों ने उन्‍हें उनके बेटे के जुड़वां भाई होने की बात बताई तो वो शॉक्‍ड रह गए।
5

इसे भी पढ़िए :  उत्तरखंड और उत्तर प्रदेश में विकास और सुशासन की जीत हुई है- पीएम मोदी

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY